Thursday, June 13, 2024
Banner Top

नेशनल टेक्निकल एडवाइजरी ग्रुप ऑन इम्यूनाइजेशन (NTAGI) के चीफ एनके अरोड़ा ने कहा कि कोविड-19 वेरिएंट (Covid 19 variant) ओमीक्रोन (Omicron) के कई नए वेरिएंट सामने आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि इनसे घबराने की जरूरत नहीं है, क्योंकि इनमें से किसी से भी गंभीर बीमारी नहीं होने जा रही है या भारत से जुड़े डाटा से ऐसा कोई संकेत नहीं मिला है कि ये तेजी से फैल रहे हों। इन वेरिएंट्स में एक्सई जैसी एक्स सीरीज और अन्य शामिल हैं। NTAGI चीफ एनके अरोड़ा ने न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत में कहा, ये वेरिएंट सामने आते रहेंगे।

इसके अलावा, सूत्रों ने शनिवार को कहा कि इंडियन सार्स-सीओवी-2 जीनोमिक कंसोर्शियम (INSACOG) अस्पताल में भर्ती मरीजों और मामलों की गंभीरता पर जोर के साथ देश में सामने आ रहे एक्सई कोविड वेरिएंट (XE COVID variant) के मामलों पर नजर बनाए हुए है। ऐसे में चिंतित होने की कोई जरूरत नहीं है।

सूत्रों ने कहा, “जब तक वायरस से अलग करने के बाद इस सीक्वेंस की पुष्टि नहीं हो जाती है, तब तक हम इस पर टिप्पणी नहीं करेंगे। हमें यह जानने के लिए इंतजार करना होगा कि क्या यह अलग है या नहीं है।”

XE variant का एक मामला गुजरात में सामने आया है, जिसकी गुजरात के स्वास्थ्य मंत्रालय के अतिरिक्त मुख्य सचिव ने पुष्टि की है।

गुजरात सरकार के अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण), आईएएस मनोज अग्रवाल ने कहा, “हम महाराष्ट्र और गुजरात सरकार एक-दूसरे से संपर्क में हैं। बायोटेक्नोलॉजी रिसर्च सेंटर ने नमूने में म्यूटेशन पाया जिसके चलते जीनोम सीक्वेंसिंग जरूरी हो गई थी। इसीलिए नमूने को कोलकाता भेजा गया, जहां उन्होंने नमूने में XE variant होने की पुष्टि की गई थी।”

उन्होंने बताया कि पॉजिटिव पाए गए इस मरीज ने महाराष्ट्र से गुजरात के बड़ोदा के लिए यात्रा की थी।

Banner Content
Tags: , , ,

Related Article

0 Comments

Leave a Comment