Monday, July 15, 2024
Banner Top

कोविशील्ड वैक्सीन (Covishield vaccine) की दो डोज के बीच गैप को लेकर फिर चर्चा होने लगी है। स्वास्थ्य मंत्रालय (health ministry) ने फैसला लिया है कि कोविड-19 के खिलाफ लगाई जाने वाली कोविशील्ड वैक्सीन के बीच का गैप 12 हफ्ते से 16 हफ्ते के बीच रहेगा। इससे पहले एक एक्सपर्ट पैनल ने वैक्सीन के गैप को कम करके 8-16 हफ्ते करने की सिफारिश की थी।

वहीं केंद्र सरकार के एक अधिकारी ने नाम ना छापने की शर्त पर कहा कि स्वास्थ्य मंत्रालय फिलहाल कोविशील्ड की दो डोज के बीच के अंतर में कोई बदलाव नहीं कर रहा है।

बता दें कि वैक्सीनेशन पर नेशनल टेक्निकल एडवाइजर ग्रुप (National Technical Advisory Group) ने 20 मार्च को दो कोविशील्ड वैक्सीन की डोज के बीच मौजूदा अंतर 12-16 हफ्ते से घटाकर 8-16 हफ्ता करने का सुझाव दिया था। लेकिन अब इसे 12-16 हफ्ते ही कर दिया गया है। मौजूदा गाइडलाइंस के मुताबिक, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India -SII) की कोविशील्ड (Covishield) की दूसरी डोज को पहली डोज के 12-16 हफ्ते के बाद दी जाती है। भारत सरकार ने पिछले साल मई महीने में NTAGI की सिफारिश के आधार पर कोविशील्ड की दो डोज के बीच अंतर को बढ़ाकर 12-16 हफ्ते कर दिया था। पहले यह अंतर 6-8 हफ्ते का था।

मौजूदा समय में भारत में कुल वैक्सीनेशन का आंकड़ा 1,83,53,90,499 पहुंच गया है। भारत में अब तक कोविशील्ड की 1.50 करोड़ से अधिक डोज दी जा चुकी है। सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया स्थानीय रूप से कोविशील्ड ब्रांड नाम के तहत ऑक्सफोर्ड एस्ट्राजेनेका वैक्सीन बनाता है। बता दें कि कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए सरकार वैक्सीनेशन पर जोर दे रही है।

भारत में पिछले 24 घंटे में 1,259 नए कोरोना संक्रमित मरीज सामने आए हैं और 35 मरीजों की मौत हो गई है। एक दिन में 1,705 संक्रमित मरीज ठीक हुए हैं। देश में कुल कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 4,30,21,982 है। अब तक कुल 5,21,070 मरीजों की मौत हो चुकी है। वहीं देश में एक्टिव मामलों की संख्या 15,378 है और अब तक कुल 4,24,85,534 मरीज ठीक हो चुके हैं।

Banner Content
Tags: , ,

Related Article

0 Comments

Leave a Comment