Tuesday, May 21, 2024
Banner Top

दिल्ली सरकार ने स्कूलों को ये सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं कि उच्च माध्यमिक वर्ग के छात्र रोजाना कक्षाओं में आएं और शिक्षक छात्रों की सौ फीसदी उपस्थिति सुनिश्चित करने की कोशिश करें. साथ ही पाठ्यक्रम को भी वक्त पर पूरा करें. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने घोषणा की कि वो 26 अप्रैल से बोर्ड परीक्षा आयोजित करेगा. दिल्ली के शिक्षा निदेशक हिमांशु गुप्ता ने शनिवार को आगामी परीक्षाओं की आवश्यक तैयारियों पर चर्चा करने के लिए एक बैठक की.

दिल्ली सरकार ने एक बयान में कहा कि बैठक में शिक्षा सलाहकार शैलेन्द्र शर्मा तथा अतिरिक्त निदेशक (स्कूल) रीता शर्मा शामिल हुईं. कोरोना वायरस संक्रमण के कारण काफी वक्त के बाद स्कूल नौवीं से 12वीं के छात्रों के लिए खोले गए अब नर्सरी से कक्षा आठ तक के छात्रों के लिए स्कूल 14फरवरी से खुल रहे हैं.

बयान के अनुसार,‘‘ शिक्षा निदेशालय ने स्कूल प्रमुखों से ये सुनिश्चित करने को कहा है कि उच्च माध्यमिक वर्ग ,कक्षा 10 और 12 के छात्र रोजाना कक्षाओं में आएं.” इसमें कहा गया,‘‘ अगले दो माह तक शिक्षक छात्रों की सौ प्रतिशत उपस्थिति की कोशिश करें और समय का इस्तेमाल पाठ्यक्रम पूरा करने तथा रिवीजन और प्रैटिकल्स के जरिए छात्रों को परीक्षाओं के लिए तैयार कराने में करें.” बैठक में ये भी कहा गया कि प्रायोगिक कार्य में ज्यादा ध्यान दिया जाएगा.

Banner Content
Tags: , ,

Related Article

0 Comments

Leave a Comment