Monday, March 4, 2024
Banner Top

 कोविड-19 (Covid-19) के बढ़ते मामलों के बीच दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (Delhi Metro Rail Corporation) ने कहा है कि मेट्रो के प्रत्‍येक कोच में सिर्फ 25 लोग ही यात्रा कर सकेंगे. साथ ही कॉरपोरेशन की ओर से लोगों से अतिरिक्‍त समय रखने का अनुरोध किया है, जिससे प्रवेश को नियंत्रित किया जा सके. साथ ही डीएमआरसी ने यात्रियों को बेहद जरूरी होने पर ही यात्रा करने की सलाह दी है.

डीएमआरसी ने गुरुवार को एक ट्वीट में कहा, “एक 8 कोच वाली मेट्रो ट्रेन में आमतौर पर करीब 2400 यात्री सवार हो सकते हैं. इसमें प्रति कोच करीब 50 यात्री बैठे और 250 खड़े यात्री शामिल होते हैं. 50 फीसद यात्रियों के बैठने और खड़े न होने के मौजूदा प्रतिबंधों के साथ प्रत्येक कोच में अब केवल 25 यात्रियों को ही समायोजित किया जा सकता है.”

डीएमआरसी ने ट्वीट में कहा, “8 कोच वाली ट्रेन में अब सिर्फ 200 यात्री ही बैठ सकते हैं. यह ट्रेन की सामान्य क्षमता से 10 प्रतिशत से भी कम है. इसलिए, बहुत जरूरी होने पर ही यात्रा करें.”

दिल्ली मेट्रो से यात्रा में आज से बड़े बदलाव, सफर से पहले इन बातों को जान लें

साथ ही कहा, “मेट्रो द्वारा यात्रा के लिए अतिरिक्त समय रखें, क्योंकि दिशानिर्देशों की अनुपालन में प्रवेश को नियंत्रित किया जाना है, जिसके परिणामस्वरूप स्टेशनों के बाहर कतारें लग रही हैं.”

हाईकोर्ट ने DMRC से मांगी बैंक खातों की डिटेल, जानिए पूरा मामला

इससे पहले, दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (DMRC) ने मंगलवार को सूचित किया था कि ट्रेनों के अंदर बैठने की क्षमता के केवल 50 प्रतिशत यात्रियों को ही अनुमति होगी. साथ ही कहा गया कि किसी भी यात्री को ट्रेन में खड़े होने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

दिल्ली मेट्रो राजधानी में और अधिक एंटी-स्मॉग गन तैनात करेगी

डीएमआरसी का यह ऐलान ओमिक्रॉन वैरिएंट के उभरने और COVID-19 मामलों में वृद्धि के बीच दिल्ली में ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान का येलो अलर्ट लागू होने के बाद आया है. डीएमआरसी ने कहा, “712 मेट्रो गेटों में से केवल 444 को ही खुला रखा जाएगा.”

 

 

Banner Content
Tags: , ,

Related Article

0 Comments

Leave a Comment