Wednesday, May 22, 2024
Banner Top

 सीएनजी की कीमतों (CNG prices) में बढ़ोतरी के विरोध में आज यानी सोमवार को राष्ट्रीय राजधानी के ऑटो, टैक्सी और मिनी बस के ड्राइवर हड़ताल पर हैं। विभिन्न यूनियनों ने इस हड़ताल का आह्वान किया है। रोज काम-धंधे और नौकरी पर जाने वालों को ऑटो, टैक्सी और मिनी बस सेवाएं नहीं मिलने से भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

ऑपरेटर्स सीएनजी की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी से दिल्ली में किराये बढ़ाने की मांग कर रहे हैं। यह एक दिन की हड़ताल होगी।

पीटीआई के मुताबिक, ज्यादातर यूनियनों ने कहा कि उनकी हड़ताल एक दिन की होगी। लेकिन सर्वोदय ड्राइवर एसोसिएशन दिल्ली ने कहा कि उनकी सोमवार से “अनिश्चितकालीन” हड़ताल शुरू हो जाएगी। यह कैब एग्रीगेटर्स की एसोसिएशन है।

दिल्ली सरकार समयबद्ध तरीके से किराया संशोधन पर विचार करने के लिए एक समिति बनाने की घोषणा कर चुकी है।

सीएनजी पर 35 रुपये सब्सिडी की भी है मांग

दिल्ली ऑटो रिक्शा संघ के महासचिव राजेंद्र सोनी ने कहा, सीएनजी की कीमतों में अप्रत्याशित बढ़ोतरी ऑटो और कैब ड्राइवर्स के लिए बड़ा झटका है। उन्होंने कहा, “हम जानते हैं कि सरकार कोई समिति बना रही है, लेकिन हमें अपनी समस्याओं का समाधान नजर नहीं आता है। हम सरकार (केंद्र और दिल्ली) से सीएनजी की कीमतों पर 35 रुपये प्रति किग्रा की सब्सिडी की मांग कर रहे हैं।”

सोनी ने कहा, ‘हम हर रोज घाटे में चल रहे अपने ऑटो और कैब नहीं चला सकते क्योंकि सीएनजी की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं। कीमतों में बढ़ोतरी का विरोध करने के लिए यह एक प्रतीकात्मक विरोध है।’

सीएनजी की कीमतों पर सब्सिडी की मांग को लेकर सैकड़ों ऑटो, टैक्सी और कैब चालकों ने हाल ही में दिल्ली सचिवालय पर विरोध प्रदर्शन किया था। राजधानी में 90,000 से ज्यादा ऑटो और 80,000 रजिस्टर्ड टैक्सी हैं।

एसटीए ऑपरेटर्स एकता मंच के महासचिव श्यामलाल गोला ने कहा कि 10,000 से ज्यादा आरटीवी बसें किराये में संशोधन और सीएनजी की कीमतों में कमी में कमी की मांग को लेकर सड़कों पर नजर नहीं आएंगी।

Banner Content
Tags: , , ,

Related Article

0 Comments

Leave a Comment