Thursday, June 13, 2024
Banner Top

महाराष्ट्र के पालघर  जिले में शुक्रवार सुबह चार घंटे के भीतर आठ बार भूकंप आया और भूकंप के झटकों की तीव्रता 2.2 से 3.6 तक मापी गई. अधिकारियों ने बताया कि जिले की डहाणू और तलासरी तहसीलों में भूकंप के झटके महसूस किए गए और इस दौरान किसी के हताहत होने की अभी तक कोई सूचना नहीं मिली है. जिला आपदा नियंत्रण प्रकोष्ठ के प्रमुख विवेकानंद कदम ने कहा, ‘‘(बृहस्पतिवार) देर रात तीन बजकर 29 मिनट पर 3.5 तीव्रता का भूकंप आया. इसके बाद, तड़के तीन बजकर 57 मिनट और सुबह सात बजकर छह मिनट पर क्रमश: 3.5 और 3.6 तीव्रता के भूकंप आए.”

डहाणू उपमंडलीय अधिकारी आशिमा मित्तल ने कहा, ‘‘3.0 तीव्रता से अधिक के इन तीन भूकंपों के अलावा (बृहस्पतिवार) रात तीन बजे से सुबह सात बजे के बीच पांच अन्य भूकंप आए.” कदम ने बताया कि स्थानीय तहसीलदारों को गांवों में निरीक्षण करने को कहा गया है. मित्तल ने कहा कि भूकंपों के कारण इन तहसीलों के गांवों में खुले मैदानों में बड़े तम्बू लगाए गए हैं, ताकि घरों में असुरक्षित महसूस होने पर स्थानीय निवासी वहां जा सके.

डहाणू और तलासरी में पिछले सप्ताह भूकंप आने के बाद कई मकानों की दीवारें ढह गई थीं और कई दीवारों में दरारें पड़ गई थीं. मित्तल ने बताया कि गांवों के स्तर पर आपदा समन्वय समितियां बनाई गई हैं और असैन्य सुरक्षा कर्मियों को सहायता के लिए तैयार रहने को कहा गया है.

इस बीच, जिला प्राधिकारियों ने एक ऑडियो संदेश जारी करके डहाणू क्षेत्र के गांवों में रहने वाले लोगों से भूकंप के खतरे के कारण सतर्क रहने को कहा. डहाणू में नवंबर 2018 के बाद से इस प्रकार के भूकंप आ रहे हैं. इससे पहले, राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (एनसीएस) ने पालघर में शुक्रवार तड़के दो बार भूकंप आने की जानकारी दी थी.

Banner Content
Tags: ,

Related Article

0 Comments

Leave a Comment